Number system (संख्या पद्धति)

हेल्लो दोस्तों
हेल्लो दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम लोग संख्या के बारेमे पड़ेंगे,और दोस्तों इस पोस्ट में हम लोग ये भी जानेगे की संख्या किसे कहते है और इसके कितने प्रकार होते है lऔर दोस्तों इस पोस्ट में हम लोग इनके प्रकार की परिभाषा भी जानेगे और कहा इनका उपयोग होता है l
google
google image
संख्या विभिन्न अंको की इकाई,दहाई,सेकड़ा,हज़ार ,..........के स्थान पर रखने से जो पद प्राप्त होता है वह संख्या कहलाता है l
A.     प्राकृत संख्या –जिसमे सभी धनात्मक संख्याये आये उन्हें हम प्राकृत संख्या कहते है l उदाहरण -२,२४२,२४,५५३४३,३५३५५,३५३५, आदि l
B.      पूर्ण संख्या – जिसमे सभी धनात्मक संख्याये और जीरो आये ,उसे हम पूर्ण संख्याये कहते है l उदाहरण -१२,१२१३,१३१३१,१३१,३१,१३१३१३१३,४३४३,०,आदि l
C.      पूर्णाक संख्या-जिसमे सभी धनात्मक ,ऋणात्मक संख्याये और जीरो आये उन्हें पूर्णाक संख्याये कहते है lउदाहरण -१२४३,४५४,५४५४५४५४६,-७६७६७,-६५६५६,०आदि l
D.     परिमेय संख्या – जिसमे सभी धनात्मक ,ऋणात्मक संख्याये,जीरो,और भिन्न संख्या,दशमलव वाली संख्या आये उसे परिमेय संख्या कहते है lउदाहरण -1,23,-56,2/5,....                                                          note:- 1.जिन संख्याओ में पॉइंट के बाद मान रुक जाता है वो संख्या परिमेय में आती है lउदाहरण -7.789966,0.000786,                               2.जिन संख्याओ का वर्गमूल निकलने पर आंसर पॉइंट में नही आये l उदाहरण  4 9इनका आंसर निकालने पर पॉइंट में आंसर नही आता है
E.      अपरिमेय संख्या –जिन संख्या का वर्गमूल निकलने पर पॉइंट में आंसर आये और रुके भी नही आगे से आगे चलता रहता है ,और जिन संख्या में दसमलव के बाद संख्या रुके नही उसे अपरिमेय संख्या कहते है l उदाहरण –0.0067645456353........... ,45324535.6897766....... 2 ,
F.       वास्तविक संख्या – जिसमे सभी धनात्मक ,ऋणात्मक संख्याये,जीरो,और भिन्न संख्या,दशमलव वाली संख्या,और अपरिमेय संख्या को वास्तविक संख्या कहते है l उदाहरण--1,o,23,-56,2/5, 7.789966,0.000786, 0.0067645456353........... ,45324535.6897766....... ,आदि l
* यहाँ पर और हम अदर संख्या के बारेमे भी पड़ेंगे *
·       भाज्य संख्या –जो 1 व अपने अलावा किसी अन्य संख्या से भी विभाजित हो सके उसे भाज्य संख्या कहते है उदाहरण – 4,6,8,20 .....आदि
·       अभाज्य संख्या-जो संख्या केवल सवयम से या 1 से विभाजित हो अन्य से नही उसे अभाज्य संख्या कहते है उदाहरण -2 ,3,5 ,17 ......आदि
·       सम संख्या –जिस संख्या में 2 का पूरा पूरा भाग जाता है उसे सम संख्या कहते है उद्दहरण -2,4,6,8,10,14,18......
·       विषम संख्या - जिस संख्या में 2 का पूरा पूरा भाग नही जाता है उसे विषम संख्या कहते है उदाहरण-1,3,5,7,9,11,17,19......



Previous
Next Post »